ईमेल दर्ज़ करें: अप्रतिम कविताएँ पाने
पूनम दीक्षित
पूनम दीक्षित की काव्यालय पर रचनाएँ


पूनम दीक्षित के काव्य-लेख
मोतीयों पर टहलते हुए - "समर्पित सत्य समर्पित स्वप्न" समीक्षा
मैं पूनम दीक्षित। कोलकाता में जन्मी, पली, बड़ी हुई। कोलकाता विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर। नैशनल मेरिट स्कॉलर होल्डर रही।

स्कूल से ही आकाशवाणी पर कार्यक्रमों में भाग लेती थी। एक्स्ट्रा करिक्लयुर गतिविधियों में छात्र जीवन में सक्रिय रह कर खूब पुरस्कार जीते। लिखने पढ़ने, घूमने और सपने देखने का शौक है। दूरदर्शन पर एंकरिंग का काम भी दीर्घ समय तक किया है। Past Life Regression का भी प्रशिक्षण लिया है ।

राज भाषा विभाग, गृह मंत्रालय में उपनिदेशक के पद पर कार्यरत हूँ। सरकारी नौकरी में 32 वर्ष हो गए। संप्रति गुवाहाटी में तैनात हूँ, पूर्वोत्तर के 8 राज्यों के लिए विभागाध्यक्ष का प्रभार है।

जीवन, जीवन के पार सब कुछ जानने की जिज्ञासा है। सबके साथ खुश रहूँ , प्यार बाँटू यही इच्छा है। अपने देश, संस्कृति पर गर्व है, सारी दुनिया अपनी है।


a  MANASKRITI  website