समर्पित सत्य समर्पित स्वप्न
सूची | कवर
भाग 1 | 10
शब्दार्थ दिखाएँ / छिपाएँ
चमन – बगीचा; तारीकियों – अँधेरों; फ़लक – आकाश; आफ़ताब – सूरज;
मुक्तक

चलो चमन में बहारों के ख़्वाब देखेंगे।
किसी कली को कहीं बेनक़ाब देखेंगे।
चलो ज़मीन की तारीकियों से दूर चलें
फ़लक के पार चलें आफ़ताब देखेंगे।

*