समर्पित सत्य समर्पित स्वप्न

कविताएँ
विनोद तिवारी


चित्रकला
वाणी मुरारका


सत्य और स्वप्न दोनों को अपनाती
कोमलता, यथार्थ, सौन्दर्य का संगम


मुझे चाहिए!


विनोद तिवारी कौन है?

कविता में विज्ञान और विज्ञान में कविता देखने वाले डॉ. विनोद तिवारी भौतिक विज्ञान के शोध कर्ता और काव्यालय के सम्पादक हैं। बचपन से ही उन्होंने अपने अन्तर्मन को काव्य के माध्यम से अभिव्यक्त किया। 80 वर्ष की जीवन यात्रा के सभी सत्य और स्वप्न, यह पुस्तक उनकी अबतक की लगभग सभी कविताओं का संकलन है।

भौतिकी में शोध कार्य के लिये उन्हें प्राइड आफ इंडिया पुरस्कार, अमरीका सरकार का पदक, और लाइफ-टाइम-एचीवमेंट पुरस्कार मिल चुके हैं। पर विज्ञान ने उन्हें शुष्क नहीं बनाया। भावनाओं, सपनों, इच्छाओं की वह उतना ही सम्मान करते हैं जितना यथार्थ का, क्योंकि वह भी हमारा अपना है। उनके अपने शब्दों में, "भौतिक विज्ञान उनकी शक्ति है और कविता उनकी दुर्बलता।"

डॉ. तिवारी की कविताओं में वह कोमलता और संयोजन है जो चिरन्तन, पुरातन का सौरभ लिए है, और वह जागरूकता है जो हमें नित नूतन हो, ज़िन्दगी के प्रति अटूट आस्था लिए, सदा आगे बढ़ने को प्रेरित करती हैं।


खरीदें


मुद्रित (Printed)
भारत में : नोशन प्रेस एमज़ोन फ़्लिपकार्ट

ई-बुक काव्यालय

किन्डल एमज़ोन भारत एमज़ोन अन्तर्राष्ट्रीय

***